युवामंच

सत्यमेव जयते

54 Posts

20 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 8098 postid : 1342482

महामहिम का हार्दिक अभिनन्दन

Posted On: 26 Jul, 2017 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

कल हमारे नवनिर्वाचित महामहिम रामनाथ कोविंद ने सर्वोच्च संवैधानिक पद ग्रहण किया। आपने गरीब दलित परिवार में में जन्म लिया। आपका जीवन संघर्ष, समर्पण, सेवा, शुचिता, सरलता और निष्कामता का प्रत्यक्ष प्रमाण है। आपको राष्ट्रपति के रूप में पाकर आम भारतीय जनमानस अत्यंत गर्वित व पुलकित है। आपकी आदर्शवादी विद्वत्‍ता व निष्काम कर्मठता जगजाहिर है। आपके मुखमंडल पर विद्यमान नवजात भोलापन मानवता को अतिशय आशान्वित करता है। हम आपको प्रथम भारतीय नागरिक बनाने के लिए प्रधानमंत्री, भारतीय जनता पार्टी और समर्थक दलों व व्यक्तियों के हार्दिक आभारी हैं।

kovind

आज कारगिल विजय दिवस की 18वीं वर्षगांठ भी है। कारगिल में पाकिस्तान की सेना ने हमारी कई चोटियों पर गुपचुप कब्ज़ा कर लिया था। हमारी शूरवीर सेना ने महान बलिदान देते हुए पाकिस्तानी घुसपैठियों को मार भगाया था। अमानवीय बेशर्म पाकिस्तान ने तब अपने फौजियों की लाशों को भी अपनाने से इनकार कर दिया था। हमारे वीर मानवीय जवानों ने हत्यारे शत्रुओं का ससम्मान अंतिम संस्कार भी किया था। आज भारत अपने वीर शहीदों को कृतज्ञतापूर्वक श्रद्धासुमन अर्पित कर रहा है। हम अपनी पराक्रमी सेना के महान शौर्य को बारम्बार नमन, वंदन, अभिनन्दन करते हैं। हम अपने शत्रुओं को पुनः पुनः चेताते हैं कि शुचितावान स्वाभिमानी भारत अपने अस्मितापूर्ण अस्तित्व पर प्रत्येक पापी कुदृष्टि को कुचलने का सामर्थ्य रखता है।

इस्लामिक आतंकपरस्त पाकिस्तान, कुंठित कुटिल चीन और पागल सनकी उत्तर कोरियाई गठजोड़ की पूरे संसार पर भयानक कुदृष्टि है। समस्त मानवतावादी शक्तियों को मिलकर यथाशीघ्र इन दुष्ट सत्ताओं और उनके पापों को मिटाना होगा। सत्यनिष्ठ मानवता पर परमशक्ति की सदैव कृपादृष्टि रहती है। संसार को ग्लोबल विलेज बनाने की इच्छा सनातन भारतीय भावना ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ का शाब्दिक रूपांतरण ही है। सम्पूर्ण मानवता को इस दिशा में प्रभावी प्रयत्न करने और करते रहने की आवश्यकता है। कई छोटी-बड़ी समस्याओं के बावजूद श्रेष्ठ भारत सरकार और सत्यनिष्ठ भारतीय जनता समस्त सद्प्रयासों की उत्तम सहयोगी है और सदैव रहेगी। हम सभी सत्यनिष्ठ मित्रों का हार्दिक अभिनन्दन करते हैं।

महामहिम राष्ट्रपति का प्रथम उद्बोधन हमारी प्रखर राष्ट्रीय आशाओं को और मजबूत करता है। हम उनको श्रेष्ठतम सफलतम कार्यकाल की आत्मिक शुभकामनाएं देते हैं। हम अपने निवर्तमान महामहिम प्रणब मुखर्जी का उनके श्रेष्ठ कार्यकाल के लिए हार्दिक अभिनन्दन करते हैं। उनको आगामी जीवन के लिए हार्दिक शुभकामनाएं देते हैं। अंततः हम अपने श्रद्धेय महामहिम राष्ट्रपति महोदय को सादर प्रणाम सहित पुनः पुनः हार्दिक अभिनन्दन करते हैं।

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran