युवामंच

सत्यमेव जयते

57 Posts

20 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 8098 postid : 1323556

भलाई !

Posted On: 8 Apr, 2017 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आदरणीय मित्रों ,…सादर प्रणाम !

अलवर में किसी गौरक्षा दल ने संदेहित गौतस्करों पर आक्रमण कर दिया !……….सरेआम पिटाई से एक व्यक्ति की दर्दनाक मौत हो गयी !……वैसे तो बहुतायत इलेक्ट्रोनिक मीडिया भरोसे के काबिल नहीं है ,…. कुछ चैनलों के अनुसार पीड़ित व्यक्ति बेक़सूर था !…..वो बेक़सूर था या कसूरवार इसका निर्णय सड़क पर कदापि नहीं हो सकता !…….हमें मात्र आत्मरक्षा में किसी को मारने का स्वाभाविक प्राकृतिक संवैधानिक अधिकार है !………गौरक्षा के नाम पर क्रूरता बेरहम पिटाई गंभीर गुंडई की श्रेणी में आती है !………तथाकथित गौरक्षक हमारे पूज्य प्रधानमंत्रीजी की नसीहत भी भूल गए !………घटना के बाद स्थानीय विधायक के बयान भी बेतुके लगे ,……फिलहाल ,…हमारे गृहमंत्रीजी ने यथोचित कानूनी कार्यवाही का भरोसा दिया है ,…राजस्थान सरकार को तीव्रता से इसपर खरा उतरना होगा !…..राजस्थान के गृहमंत्री का आश्वासन भी सांत्वनादायक है !………इस मुद्दे पर भी स्वार्थी राजनीति उफान पर है ,…. लुंज लालची विपक्षी अचानक आक्रामक हो गए ,….. कुकर्मी कांग्रेस को हंगामा करने का अवसर मात्र चाहिए ,…….इस मुद्दे पर भाजपा आक्रामक बचाव की यथोचित मुद्रा में दिखी !………..खाऊ कांग्रेस के बुढ़ाते युवराज अपने एजेंडे से अनभिज्ञ दिखते हैं ,……..लेकिन भाजपा संघ के एजेंडे के विशेषज्ञ ज्ञानी बनते पाए गए !……….बहरहाल मुद्दा ही देखते हैं !

पिछले कुछ वर्षों से गौतस्करों की बेहिसाब बदमाशी और गौरक्षकों की जबाबी गुंडागर्दी दोनों आम हैं ,….पापी तस्कर भारी मुनाफे के लिए विविध तरीके अपनाते हैं ,…… मासूमों को भी मोहरा बनाते हैं !……. गौरक्षक प्रतिकारी मानसिकता के अनुसार पुण्यार्जन हेतु प्रत्येक प्रयास करते हैं !………प्रत्येक कार्य का प्रारम्भ नेकनीयती से हो सकता है ,…….लेकिन नेकनीयती के परदे में पनपी विध्वंसक बदनीयती छुप नहीं सकती है !……….अब कुछ गौरक्षक अपराधी प्रवित्ति के पोषक भी हैं !,……….. समर्पित सच्चे गौरक्षक भी निश्चित भटकाव के शिकार लगते हैं !…..हमारे युवाओं को समझना होगा ,…. गौरक्षा का श्रेष्ठतम साधन गौसेवा है !……….सेवाभावी युवाशक्ति अपनी सृजनकारी ऊर्जा से गौपालन को अत्यंत लाभकारी बना सकती है !………परमपूज्य स्वामी रामदेवजी का गौसेवा गौरक्षा गौसंवर्धन का महान प्रकल्प हमारा श्रेष्ठतम आदर्श बन सकता है ………हमारी गाय हमारे पोषण स्वास्थ्य रक्षा कृषि पूजा हवन यज्ञ उत्थान शान्ति के लिए वरदान है !……गाय मानवता को परम उपहार है !………हमारी एक भी गाय किसी पर बोझ नही है !…….इसकी सुरक्षा इसकी सिद्ध उपयोगिता अपनाने में है !……. स्वामीजी ने पवित्र गौदुग्ध गोघृत गौमय गौमूत्र का मानव जीवन में प्रभावशाली प्रत्यक्ष प्रयोग पुनः सिद्ध किये हैं !………….हमारा प्रत्येक नागरिक यदि आवास स्वच्छता हेतु रासायनिक फिनायल की जगह जड़ीबूटी युक्त गोनाईल ही अपना ले …… तो .. गौ तस्करी पर स्वतः पूर्ण विराम लग जाएगा !…….पतंजलि संस्थान का सूत्रवाक्य सबकुछ कहता है ,…. “..पतंजलि गोनाईल अपनाइए – गौमाता को कत्लखानों से बचाइये !…” ……

…….गौभक्त युवा स्वयं बहुलाभकारी गौपालन करें तो सर्वश्रेष्ठ सेवा होगी !……सुखी गाय सकारात्मक ऊर्जा का रहस्यमय स्रोत है !……….नए बदलते भारत में बहुमूल्य सस्ते गौउत्पादों का जोरदार स्टार्टअप संभव है !………हम गौभक्ति जागरण से सार्थक स्वरोजगारी प्रयास कर सकते हैं !……….गरीब ग्रामीण भारत में गौसेवा से पुनः अथाह शक्ति भरी जा सकती है !……….आम जनता को पूज्यनीय गाय माता के दूध घी गोबर मूत्र के उपयोगों लाभों की शिक्षा प्रेरणा देकर हम समष्टि की सेवा कर सकते हैं !……..हमारे जैसे निपट निकम्मे कम से कम गोनाईल का उपयोग तो कर ही सकते हैं !……….सच्चे गौरक्षकों को आदरणीय स्वामीजी से हरसंभव शिक्षा सहायता प्रेरणा लेनी चाहिए !……..शुद्ध समर्पण से यथासंभव सेवा देनी चाहिए !………अकारण हिंसा अत्यधिक हानिकारक होती है !……पुण्यार्जन के नाम पर पापार्जन से सबको बचना ही चाहिए !…………..तस्करों पापियों को उनके लोभ का यथायोग्य परिणाम अवश्य ही मिलेगा !……..हमारे यथार्थ गौप्रेम से यह पापकर्म ही अस्तित्वहीन हो जाएगा !……….हम पापियों के पाप भी मिटाने का महानतम पुण्य अर्जित कर सकते हैं !………सांसारिक सत्ताओं को प्रत्येक अपराध के यथायोग्य नियंत्रण का भरसक प्रयास करना ही चाहिए !……श्रेष्ठता का विकास उससे भी अधिक महत्वपूर्ण कर्तव्य है !…………

इधर उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्रीजी अत्यंत सकारात्मक तीव्र क्रियाशीलता के प्रतिमूर्ति लग रहे हैं !…….समर्पित योगी को लम्बा दुर्गम पथ पार करना है ,…….योगीजी में मोदीजी का योग्य उत्तराधिकारी स्पष्ट परिलक्षित होता है !………….योगशक्ति से मानवता चकित है !………परमपिता योगियों से विशेष प्रेम करते हैं ,…उनके लिए प्रत्येक प्रतिकूलता श्रेष्ठ अवसर बन जाती है !…….प्रत्येक परीक्षा उच्चतर सोपान के द्वार खोलती है !…..पराजय भी महाविजय का पथप्रदर्शन करती है !…….आदरणीय आदित्यनाथ जी को तीव्र प्रगतिशील ‘हिन्दू युवा वाहिनी’ को विशेष संयम के साथ बहुत कुछ सिखाना होगा ,…वो स्वयं तपस्वी कर्तव्यशील महाज्ञानी हैं ,……शिक्षा सेवा संयम से सुशक्ति आती है !………इस संगठन से भी भारतवर्ष को बहुत अपेक्षाएं हैं !………….मात्र कठमुल्लावादी इस्लाम का विरोध किसी मानवता का आधार व्यवहार नहीं हो सकता है !……….आत्म उत्थान हिंदुत्व का मूलभाव है !…….श्रेष्ठ सृजन हमारा कर्तव्य है !……..पाप मलिनता का विनाश हमारा धर्म है !.

वैसे कुछ जड़जालिम कठमुल्ले सच सुनने को भी तैयार नहीं हैं ,……शायद सुन्नी मौलाना नेता पूर्णतः सुन्न है ,……गतिशीलता जीवन का प्रमाण है ,…जालिम जड़ता मृत्युतुल्य है ,……..हमें उनपर तरस भी आता है !………किस आसमानी किताब की आड़ लेकर वो तीन तलाक, बहुविवाह को जायज और योग, वन्देमातरम को नाजायज ठहराते हैं !………..बुतनिंदक पंथ में लोलुप लुटेरे गाजियों की कब्रें पूज्यनीय मजारें हो सकती हैं लेकिन,….. मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान् श्रीराम की जन्मभूमि में जबरन हिस्सा चाहिए !……ये पीड़ादायक अमानुषी सोचें हमें हंसने के लिए भी बाध्य कर सकती हैं !… …..मिथ्या अहंकार की कठोरता असीम हो सकती है ,…लेकिन ….उसका टूटना भी अनिवार्य प्राकृतिक प्रक्रिया है ,..अतः चोट भी पर्याप्त भारी होती है !………हम प्रार्थना करते हैं कि परमेश्वर प्रत्येक मानवता को पाप के चंगुल से बचाए !………भारतीय मुसलमान अपनी समृद्ध जड़ों के कारण सौभाग्यशाली है !………मानवता को यह सौभाग्य समय रहते पहचानना चाहिए !………………..मानवीय शिया साहिबानों की जाग्रति नमनीय है !…… प्रत्येक सद्भावना मानवता के लिए अनमोल है !

…उत्तर प्रदेश में एक लाख तक का फसली कृषि ऋण माफ़ करने के लिए उत्तर प्रदेश की गरीब जनता भाजपा सरकार की अत्यंत आभारी है !………वैसे बहुतायत किसान गरीब ही है ,…क्योंकि किसानों के नाम पर अब तक हमसे धोखा फर्जीवाड़ा ही होता आया है !………..भाजपा सरकारों की कृषि कृषक उत्थान के लिए प्रतिबद्धता सराहनीय है !…..इसे जमीन तक पूर्णता से उतारने में सतत भारी श्रम करना होगा !…….वैसे……हमारी आम लालची आवश्यकता कहती है कि एक लाख से ऊपर के कृषि ऋणों पर यथासंभव सहूलियत छूट भी मिलनी चाहिए !…….लेकिन किसान क्रेडिट कार्डों में बहुतायत घपला घालमेल हुआ है !………बैंक दलालों ने किसानों के कागज़ पर कर्जा लेकर खुद ही हड़प लिया है !………कमीशन लेकर बेहिसाब खाते खोले गए हैं !…….कुछ लालची फर्जी किसानों ने भ्रष्ट बैंक कर्मियों दलालों की मदद से भारतीय जनधनधारी बैंकों को भारी चूना लगाया है !………सभी किसान क्रेडिट खातों की व्यापक निष्पक्ष जांच अनिवार्य है !…….हमारे पूज्य प्रधानमंत्रीजी श्रेष्ठतम रीति से सबकुछ करने में समर्थ हैं ,…….भारतभूमि को उनपर गर्व है !……..सभी किसानों को यथोचित लाभ पहुचाने के लिए बैंकतंत्र की आतंरिक स्वच्छता अत्यंत अनिवार्य है !……प्रत्येक स्वच्छता की तरह यह स्वच्छता भी सम्पूर्ण मानवता की हितकारी होगी !……. भारतीय रिजर्व बैंक के सम्मानीय गवर्नर का कृषि कर्जमाफी पर सवाल शायद उनकी भारी भ्रष्टाचार से विवशता को दर्शाता है !….कुछ दिन पहले भारतीय स्टेट बैंक की आदरणीया प्रमुख ने भी एसी बात कही थी !…….कृषि उत्थान के लिए प्रत्येक संतुलित कदम सराहनीय है ! ….कर्जमाफी की लत भी उचित नहीं है !……. मानव जीवन में प्रत्येक शुचिता का उत्तम महत्त्व है ,….अर्थप्रधान आधुनिक युग में आर्थिक शुचिता को प्राथमिकता अवश्य मिलनी चाहिए !……..आधुनिक युग में बैंक भी मानवता के अच्छे उपकरण हैं !…..मानवता इनकी आभारी है !…लेकिन ……इनकी मलिनता से महती हानि निश्चित है !…..हमारा बैंक तंत्र भारी भ्रष्टाचार की चपेट में है !…….हम वास्तविक उन्नति हेतु किसी उपकरण का यथोचित त्याग भी सहर्ष सहन कर सकते हैं ,..लेकिन……….अन्याय के प्रति आत्मसमर्पण कदापि संभव नहीं है !….बैंकों की शुद्धि अतिआवश्यक है !……हमें लगता है कि दो हजारी नोट भी यथाशीघ्र बंद होने चाहिए !……मुद्रा परिवर्तन के प्रारंभिक चरण में व्यापक बेईमानी हुई है !………अब इसका इलाज भी हो तो वास्तविक आनंद आयेगा !…….. चोर सिपाही के खेल का अगला चरण और प्रभावी होना चाहिए !…….मानवता को इसकी सहज प्रतीक्षा रहेगी !

सरकारी डाक्टरों का निजी प्रैक्टिस प्रेम सर्वसाधारण सूचना है !……….इसके कुछ इलाज हो सकते हैं !……..हम अधिक परिश्रमी योग्यताओं से उचित मूल्य पर अतिरिक्त सेवाएँ ले सकते हैं ,… अर्धसरकारी जैसे विशेष/मोहल्ला दवाखानों की समुचित स्थापना भी की जा सकती है !……..अतिशयलोभी अकर्तव्यपालकों को दंड मिलना चाहिए !…..आजकल अधिकाँश डाक्टरों का मुख्य लक्ष्य येन केन प्रकारेण धनार्जन ही है ,…….स्वास्थ्य जैसी मूलभूत सेवा में अनैतिक आचरण पर सूखी बर्खाश्तगी मिलनी चाहिए !……..किसी भी सरकारी सेवा में अनैतिक आचरण सिद्ध होने पर फंड बोनस आदि कोई लाभ मिलने की प्रत्येक संभावना समाप्त होनी चाहिए !……..निजी चिकित्सालयों पर भी प्रभावी निगरानी आवश्यक है !……मोदी सरकार अमानवीय वैश्विक दवा माफिया पर नियंत्रण के सफल प्रयत्न कर रही है !………सभी सत्ताओं को नैतिकता का पूर्ण पक्षधर बनना चाहिए !…..

उधर सीरिया में आमजन पर रासायनिक हमला मानवता से भयानक घिनौनी क्रूरता की पराकाष्ठा है !………..सीरियाई संकट के गुनाहगार जो भी हों ,….पीड़ा मासूम मानवता ही उठा रही है !……….वहां भी हर पक्ष अपराधी लगता है ,……प्रत्येक सत्ता में अपनी शक्ति का कर्तव्यबोध जागृत रहना चाहिए !…….अन्यथा पीड़ादायक पतन विनाश सुनिश्चित होता है !………प्रत्येक अहंकारग्रस्त पाप की प्रतिपूर्ति अकल्पनीय भी हो सकती है !……..इस संसार में प्रत्येक कर्म का यथायोग्य फल मिलना सुनिश्चित है !…….पाप से बचने में मानवता की भलाई है !……….…………ॐ शान्ति !………..भारत माता की जय !!……………….वन्देमातरम !!!

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran