युवामंच

सत्यमेव जयते

57 Posts

20 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 8098 postid : 1303958

जय भीम -जय भारत !

Posted On: 31 Dec, 2016 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आदरणीय मित्रों ,…सादर प्रणाम !

शक्तिशाली भारत में बल के पुरातन पर्याय ‘भीम’ के आर्थिक स्वरुप का नवातरण होने को है !……हमारे पूज्यनीय प्रधानमंत्रीजी ने आर्थिक स्वतंत्रता स्वच्छता सुलभता के इस महायोद्धा का सांकेतिक अनावरण किया है !……..डिजिटल लेनदेन पर हमारी कर्मठ युवा पीढ़ी अत्यंत सकारात्मक है ,…..जबकि ..लुटेरी निराशा में जीवनयापन करने वाले अधिकाँश उम्रदराज कुछ संशय में हैं !………हम विश्वास करते हैं कि आधुनिक भीम से हमारे सब संशय विकार समाप्त हो जायेंगे !…………समर्थ उपकरण से कठिनतम कार्य भी सहज हो जाते हैं !………सुरक्षित सर्वांगी डिजिटल लेनदेन आधुनिक समय की बड़ी आवश्यकता है ,….सरकार अनेकों स्तर पर डिजिधन को बढ़ावा देने के भरपूर प्रयास कर रही है ,…….बम्पर इनामी प्रोत्साहन भी इसी का हिस्सा है ,……..इसके पर्याप्त उचित कारण हैं !……..इससे हर प्रकार की आर्थिक कालिख कुत्सितता कठिनाई पर प्रभावी नियंत्रण होगा ,……आम भारतीय भ्रष्टाचार लूटखसोट जालसाजी आर्थिक परतंत्रता से आजाद होगा !……नोट छापने पहुंचाने बांटने के भारी खर्चीले काम से बचाव बोनस में होगा ,…नकदी सुरक्षा की चिंता भी मिटेगी !…….कुलमिलाकर इससे भारतीय भविष्य बहुत उज्जवल होता दिखता है !……..डिजीक्रान्ति से कालेधन के उत्पादन पर रोक लगेगी ,……जिससे देश को अधिकाधिक लाभ होगा !…………….इसीलिए हमारी समझदार योग्य युवा पीढ़ी बढचढकर इस नेक क्रान्ति में सहभागिता कर रही है ,……..हर भारतीय को अपनी यथासंभव अधिकाधिक सहभागिता सुनिश्चित करनी चाहिए !……..लाखों देशभक्त युवा इस पवित्र कार्य में हमें आवश्यक शिक्षा प्रदान करने में जुटे हैं !……हम सभी स्वयंसेवकों के बहुत आभारी हैं !………..हम ‘भीम’ के निर्माताओं को हार्दिक आभार बधाई सहित अनंत शुभकामनाएं देते हैं !……. ‘जय भीम – जय भारत’ का नारा अब वास्तविक आकार लेता लगता है !

प्रधानमंत्रीजी ने यह एप भारतरत्न बाबासाहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर को समर्पित किया है !……..भारतीय महापुरुषों के यथोचित सम्मान के साथ उनके सपनों को पूरा करने में मोदीजी पूरी तन्मयता से जुटे हैं !… हम उनके महान प्रयासों को नमन करते हुए उनका बल बढ़ाते रहने को कृतसंकल्पित हैं !……बेईमान बिगडैल बददिमाग बासी विरोधियों पर कुछ कहने की इच्छा नहीं होती ,……सब अपने कर्मफल ही प्राप्त करेंगे !………भारतीय जनता सबकुछ समझती है !……….. समझपूर्ण साहसिक सुकर्मों से मोदी सरकार का जनसमर्थन सतत बढ़ रहा है !

मुद्रा परिवर्तन अभियान के पचास दिन भी पूरे हो गए ,……हमारा पहला कदम सफलतापूर्वक संपन्न हुआ ,….हमारे कर्मठ अधिकारियों कर्मचारियों के साथ अथाह धैर्यवान आमजनमानस भी बधाई का पात्र है ….इसके आंकड़े लाभ उसका नियोजन व्यापक विवेचना का विषय है ,……यथासमय यह भी होगा !………फिलहाल सरकार को जहरीली कालिख पर अगले प्रभावी प्रहार फ़ौरन करने होंगे !……हर भारतवासी भ्रष्टाचारियों की पूर्ण बर्बादी चाहता है !……..कोई कुकर्मी बचना नहीं चाहिए !…….राजनैतिक शुचिता के लिए प्रभावी कदम अवश्य ही उठने चाहिए !

क्योंकि विरोधी लगातार बेचैन हैं अतः कुछ लिखना बनता ही है !……विरोधी दल अपनी पापी प्रतिष्ठा के अनुसार कुकर्म ही करते रहे !……..उनकी कुल्हाड़ी उनका ही पैर काट रही है !…….कांग्रेसी युवराज समेत कईयों की खाऊ नौटंकीबाजी सिद्ध हो चुकी है !………… अखिलेश जैसे स्वघोषित विकासवादियों का विवेकहीन विरोध उनको पूरा नंगा कर गया है !……….डिजिधन पर आवश्यक जागरूकता फैलाने के बजाय भय फैलाने से उनकी बची खुची इज्जत भी बर्बाद हो चुकी है !………वैसे ….बेहिसाब माल बंटवारे के कुनबाई युद्ध में पूरा समाजवादी परिवार खुद ही नंगा हो चुका है !……..मुख्यमंत्री समेत लगभग सभी मंत्री नेता आकंठ भ्रष्टाचार में डूबे रहे !……खाऊ अधिकारियों की भरपूर मौज रही ,….जिसको बहुत अच्छा मुख्य सचिव बताया, फिर उसे ही हटाया !…….नियुक्तियों में भारी बेईमानी मनमानी कौन नहीं जानता !…..न्यायपालिका और सच्चे राज्यपाल जी की प्रभावी सक्रियता से कुछ कमीनापन कम हुआ है !…….लेकिन ….हर योजना परियोजना ठेके में भरपूर ठगी घूसखोरी जारी रही !….जमीनें कब्जाना समाजवादियों का प्रिय पोषाहार रहा है ,…….दुष्ट समाजवादी कार्यकर्ताओं का खौफ आमजनता से लेकर अधिकारियों तक रहा !………असली मजबूर कामगारों के मनरेगा भुगतान में महीनों लगते रहे ,….दस प्रतिशत किराए पर जाबकार्ड लेनेवाले दलाल अधिकारी फ़ौरन मालामाल होते रहे !…..शिक्षा स्वास्थ्य सब भ्रष्टाचार में बर्बाद हैं !…..विश्व रिकार्ड बनाने के लिए बहुतायत विलायती बबूल रोपे गए ,…फिर भी रसीले मीठे आमों के सपने देखना जारी है !…….अधूरे कामों के जोरदार उदघाटन किये गए !….अंतिम समय में थोक शिलान्यास हुए ,…लेकिन जनमन पर इनका कोई प्रभाव नहीं हो सकता !…….अखिलेश के अक्षमराज में उत्तर प्रदेश आज अपराध, अन्याय, आतंक, तुष्टिकारक साम्प्रदायिकता में बुरी तरह फंस चुका है !……….लिजलिजे अखिलेशराज में सौ में नब्बे खाओ दस लुटाओ का सूत्र ही ज्यादा चला !……..खुद मुलायाम के कई बयान अखिलेशी भ्रष्टाचार के स्पष्ट सुबूत हैं !…….प्रशासनिक नाकामी छुपाने के लिए अखिलेश पूरे कार्यकाल में अधिकारियों को पत्ते की तरह फेंटते रहे ,…..मायाराज की तरह तबादला भी एक उद्योग बन गया !….उनकी विनम्रता भी उनकी ईमानदारी की तरह नकली लगती है !…….यदि आज अखिलेश किसी प्रकार से खुद को पूरी तरह पाक साफ़ कर लें ,…तो भी ,…उनकी क्षमता प्रादेशिक राज्यमंत्री से ज्यादा नहीं लगती है !……उनकी नालायकी से प्रदेश की संभावनाएं बहुत सिमटी हैं ,….जिन कार्यों की उपलब्धि पर वो उछल रहे हैं ,..वो केंद्र में मोदी सरकार आने पर ही पूरे हुए हैं ,……अहंकारी अखिलेश ने जनहितैषी केन्द्रीय योजनाओं को रोकने का पूरा प्रयास किया है ,……उनके लालची कार्यकर्ताओं ने उज्ज्वला योजना में भी गरीब जनता से वसूली की है !…….उनके राज में मानवता बहुत बेबस शर्मशार हुई है ,…….पीड़ित फरियादी थानों से गाली देकर भगाए गए !……बेक़सूर पीड़ित हुए ,..कसूरवार पल्लवित हुए !…….पुलिस पालतू गुंडों की सलामी ही ठोंकती रही !…….समाजवादी सरकार में महिलायें बहुतायत अत्याचार की शिकार हुई हैं ,…….जब उनके बाप ही बलात्कार को सामान्य जोशीली गलती बताते हैं तो शैतानी शोहदे क्यों न उसे पुण्यकर्म मानें !……एक कहावत याद आती है ,… “बेहया के पिछवाड़े रूख उगा तो वो बोला चलो चार हाथ छाँव हुई !”……..उनके लिए छेड़छाड़ तो क्रिकेट प्रसारण में विज्ञापन जैसा आवश्यक होगा !…….मुलायम सिंह को भी अपनी करनी भोगनी पड़ेगी !…….उनका कुकर्मी जीवन समाप्ति की ओर है ,……..सर्वशक्तिमान नियति अब उनसे बदला ही लेगी !……..अविवेकी अहंकार तमाम पापों का कारक बनता है ,……आत्मा की पाप से निवृत्ति का प्राकृतिक साधन यथोचित यातना है !……मुलायामजी को कठोर नैमित्तिक यातना के लिए तैयार रहना चाहिए !………..अखिलेशजी के पास शायद अभी समय होगा ,…..सत्ता साधन जाने के भय से शोर मचाते चमचे उनके भ्रष्ट लाभार्थी मात्र हैं !……..अब भी यदि वो अहंकार अभिमान त्यागकर तनमन से सत्यधर्म मानवता की सेवा कर सके तो, यथासमय नियति का प्रेमप्रसाद भी प्राप्त हो सकता है !…….अन्यथा वही होगा जो होना चाहिए ,……तपस्याहीन लालची दगदगी नेता हानिकारक ही होता है !……. आम जनता मोदीजी की मुरीद हो चुकी है !……जातिवादियों खाऊ खानदानियों का जुल्म अब सहा नहीं जायेगा !……..एकजुट भाजपा सही सीधे रास्ते पर चलती रही तो लखनऊ विधानसभा में तीन सौ से ज्यादा कमल खिलेंगे !…….उसे अपराधी तत्वों से बहुत दूर ही रहना चाहिए !………भाजपा के सैकड़ों नेता अखिलेश माया से बहुत अधिक योग्यता ईमानदारी रखते हैं !

खैर मुद्रा परिवर्तन अभियान पर ही आते हैं !……….जागरूक जनता किसी जल्दबाजी में नहीं है ,…हमारा सब काम देर सबेर चल रहा है ,………पूर्ण पवित्र उद्देश्यपूर्ति हेतु सभी आवश्यक कदम उठाने ही चाहिए !……..भ्रष्टों दलालों देशद्रोहियों जालसाजों से देश हर हाल में आजादी चाहता है !……..कमीनों के हाथ कष्ट के सिवा कुछ नहीं लगना चाहिए ,…….अन्यथा नियति सबको कष्ट देगी !…..बेईमान खातों की सही जांच होनी ही चाहिए ,….नकद निकासी पर प्रभावी प्रतिबन्ध बहुत आवश्यक है ,…..अधिकाँश बैंकों के बाहर कतार ख़त्म हो चुकी है ,….जहाँ हैं वहां कुछ गड़बड़ भी हो सकती है !……………भारत में पूर्ण शक्तिमान, मानवता सहायक, स्वदेशी भीम की प्रबल आशा प्रतीक्षा प्रारंभ है !……..जय भीम – जय भारत !………….सभी आदरणीय मित्रों को ईशाई नववर्ष २०१७ की हार्दिक शुभकामनाएं !.……………….ॐ शान्ति !……….भारत माता की जय !!…….वन्देमातरम !!!

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran